Internship क्या है? Internship से जुड़ी पूरी जानकारी

हो सकता है आपने भी Internship का experience भी लिया हो। लेकिन यदि आप Internship के बारे में नहीं जानते हैं। तो आपको यह concept जरूर समझना चाहिए। इसलिए आज के इस लेख में बतायेंगे कि internship क्या है? (What is internship) और इससे जुड़ी सभी जानकरियां देने वाले हैं। इसीलिए इस लेख को पूरा जरूर पढ़ें ताकि इंटर्नशिप को आप आसानी से समझ सकें।

इंटर्नशिप क्या है? (What is internship)

Internship पहले भी students के बीच एक popular term थी। लेकिन अब यह इतना महत्वपूर्ण हो गयी है कि लगभग सभी कॉलेज और educational institute में पढ़ने वाले students के लिए उनके course का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बन गयी है। इंटर्नशिप एक ऐसा program है, जिसके जरिये students अपने career की शुरूआत में किसी कम्पनी में एक महीने, तीन महीने, छः महीने या फिर एक साल तक कम करके work experience प्राप्त करतें हैं। और यह experience उन्हें एक अच्छी नौकरी पाने में बहुत helpful भी रहता है।

इंटर्नशिप कई तरह की होती है Part Time Internship और Full Time Internship। एक internship कुछ सप्ताह से लेकर एक साल तक चल सकती है। internship, high school students, undergraduate और graduate students कर सकतें है। Internship के बाद नौकरी मिलना confirm नहीं होता। लेकिन नौकरी के लिए सही रास्ता और ट्रेनिंग जरूर मिल जाती है। इंटर्नशिप के दौरान अच्छे परफॉरमेंस देने वाले interns के लिए उस orgnization में नौकरी पाने के अवसर काफी बढ़ जातें हैं। इसके अलावां एक कैंडिडेट के तौर पर CV को strong करने में internship experience का बहुत बड़ा हाथ होता है।

यदि आप इंटर्नशिप कर रहें हैं, तो इसके दौरान एक intern को सप्ताह में कितने दिन और कितने घन्टे काम करना होगा। यह उस ऑफिस पर निर्भर करेगा जहाँ आप intern होंगे। इसीलिए अच्छा यही होगा। कि इंटर्नशिप शुरू करते समय इस तरह की सभी जरूरी बातें पता कर ली। जाएँ और उसके अनुसार ही परफॉरमेंस दी जाये।

Internship करने के लाभ

1. Work experience मिलता है

Classroom से निकलकर ऑफिस के practicle वातावरण में work experience मिलना intern के लिए एक बहुत महत्वपूर्ण experience होता है। इंटर्नशिप के जरिये students अपने knowledge को real work प्लेटफार्म पर अप्लाई करना सिखतें हैं। और इस दौरान बहुत सारी skills को gain करतें हैं। जैसे- Communication Skill, Team Work, और Computer works इन सभी तरह के experience प्राप्त करने के बाद एक intern अपने रूचिपूर्ण क्षेत्र में नौकरी पाने के लिए काफी हद तक तैयार हो जाता है।

2. Practicle knowledge हासिल करना आसान हो जाता है

कॉलेज में theory पढ़ने के बाद उसको practicle में परखने का मौका इंटर्नशिप में ही मिलता है। यहाँ students अपने classroom के knowledge को ऑफिस के practicle envirement में टेस्ट कर सकतें हैं। और practicle knowledge gain कर सकतें हैं।

3. Professional Network बनाना आसान हो जाता है

किसी भी क्षेत्र में काम करने के लिए एक अच्छा network होना बहुत जरूरी होता है। जो न केवल समस्याओं को solve करने में हेल्पफुल रहता है। बल्कि आपकी उन्नति के लिए भी बहुत जरूरी होता है। internship के दौरान एक intern उस industry के professionals के बीच रहते हुए काम करना सीखता है। और इस समय interns के पास अवसर होता है कि वह experts से  काम की बारीकी को सीख सके। और उनके contact में रहकर better work के अवसर को प्राप्त कर सके।

4. Internship Confidence बढ़ाता है

यदि कोई internship कर लेता हैं। तो इससे उसका confidence बढ़ जाता है। और classroom के बाद वह किसी भी ऑफिस में काम करने के लिए तैयार होता है। internship की वजह से students के लिए एक अच्छा कर्मचारी बनना आसान हो जाता है। क्योंकि internship पीरियड में वह ऑफिस के work pattern को करीब से देख पाता है। और उसमें अपनी नौकरी पाने के लिए खुद को confidence के साथ तैयार भी कर पाता है।

5. Career Path Explore करना आसान हो जाता है

कॉलेज में पढ़ते समय सभी students को यह क्लियर नहीं होता है। कि उसके जीवन का लक्ष्य क्या है और वह किस क्षेत्र में अपना career बनाना चाहता है। भले ही वह अपनी पसंद के subjects को पढ़ रहे हों। लेकिन उनमें मिलने वाले career option कई तरीके के होते हैं। इसमें से perfect option चुनने के लिए internship help करती है। Internship के दौरान एक intern को उस job profile की reality का पता चलता है। जिसके बारे में interns की बहुत सी expections होतीं हैं। और कई बार ऐसा भी होता है कि interns की expections उस job profile से match नहीं करती है। ऐसे में interns ये तो समझ ही जातें हैं। कि यह job उनके लिए नहीं है। या है ऐसा होने से बहुत कम समय में की गयी internship एक students को सही career option चुनने में बहुत ही मदद करती है।

Internship के प्रकार

1. Paid Internship

इस तरह की इंटर्नशिप ज्यादातर बड़ी orgnizations और private sector में मिलाती हैं। जहाँ students को इंटर्नशिप का payment दिया जाता है। सभी students इसी तरह का internship करना पसंद करतें हैं।

2. Unpaid Internship

इस तरह की inetrnship में students को work experience तो मिलता है। लेकिन उसके लिए उसे कोई payment नहीं दिया जाता है। जब आप किसी nonprofit orgnizations में internship करतें हैं। जिनका उद्देश्य money earn करने से ज्यादा services provide करने से होता है। जैसे- Charities, Universities, Government Agencies और कुछ Hospital आदि इन जगहों पर की गयी इंटर्नशिप ज्यादातर unpaid internship होती है।

3. Partially Paid Internship

कई orgnizations में Partially Paid Internship का भी option होता है। इसमें interns को कुछ stipend दिया जाता है। Stipend एक फिक्स amount होता है। जो regular basis पर दिया जाता है।

4. Summer Internship

यह बहुत ही popular और benificial internship होती है। यह इंटर्नशिप अक्सर 8 से 12 सप्ताह की होती है। यह full time और part time दोनों भी हो सकती है। इस time की जाने वाली इंटर्नशिप students को अपने लिए सही career फील्ड चुनने में बहुत मदद करती है।

5. Co-operative Education

इसमे और इंटर्नशिप में काफी ज्यादा समानता होती है। ये दोनों ही students के लिए एक एक बेहतरीन career चुनने में helpful रहते हैं। क्योंकि इन्हें करने से students उस फील्ड के लिए required skills और knowlege gain कर सकतें हैं। इनके बीच मुख्य अंतर time duration का होता है।  इंटर्नशिप सामान्यतः कुछ सप्ताह से महीनो तक होती है। जबकि Co-operative Education एक या ज्यादा साल चलती है।

6. Work Reearch, Virtual Research

इस तरह की internship अक्सर ऐसे students करतें हैं। जो अपने final year में होते हैं। इंटर्नशिप के इस टाइप में एक intern उस कम्पनी से जुड़ा research करता है। जिसमें वह internship कर रहा है।

7. E-mail, Online Chat और Phone Virtual

क्या आप remote internship के बारें में जानतें हैं। इस तरह की इंटर्नशिप कहीं भी की जा सकती है। यानि अगर कोई intern work experience अपने comfort zone में रहकर करना चाहता है। यानि बिना ऑफिस गये पूरी freedom और flexibility के साथ तो ऐसे interns के लिए remote internship बेहतर option होता है। इस तरह के इंटर्नशिप में एक interns real world experience ऑफिस से दूर बैठकर भी ले सकता है। इस दौरान एक intern parcticle work को कितना सीख सकेगा। यह उसकी capability और dedication पर निर्भर करता है।

इसे भी पढ़ें:-

Final Words

अब आपके पास internship से जुड़ी सारी जरूरी information आ गयी है। हमें उम्मीद है की यह लेख इंटर्नशिप क्या है? (What is internship)। और इससे जुड़ी सभी जानकारी आप लोगों को मिल गयी होगी। आगे भी ऐसे ही इनोवेटिव और इंट्रेस्टिंग हमारी वेबसाइट से जुड़े रहें। आगे आपको किस टॉपिक पर जानना है हमें comments box में comments करके जरूर बतायें। धन्यवाद!

Rohit Yadav

Hi Friends! I am Rohit Yadav, a Web developer, programmer and blogger. I love to write a blog and share our thoughts and knowledge with other peoples. I think the articles written by me will be very helpful for you.

One thought on “Internship क्या है? Internship से जुड़ी पूरी जानकारी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *