CDS (Combined Defence Services) Exam क्या है? जानें पूरी जानकारी

नमस्कार दोस्तों मैं हूँ रोहित आपके साथ और एक बार फिर से आपका हमारी वेबसाइट GyanInfo.Com पर स्वागत है। इस लेख में हम आपको CDS Exam के बारे में बतायेंगे। कभी कभी लगता है, कि देश की मदद करना चाहिए। लेकिन कैसे घरवालों से बात करो तो किसी ने किया है, तो वे लोग आपको कैसे बतायेंगे। अगर बात देशभक्ति की हो तो देश के लिये कुछ कर गुजरने का जज्बा बहुत से लोगों में होता है। और होना भी चाहिए। लेकिन इस देशभक्ति को जताने के लिए अलग अलग तरीके हैं। जैसे कोई समय पर टैक्स भरता है,तो कोई देश की सेवा के लिए बॉर्डर पर खड़े हो जाने को तैयार हो जाता है।

ऐसे ही देशप्रेमियों को देशसेवा का मौका देने वाला और एक बेहतरीन करियर बनाने का अवसर देने वाली परीक्षा है, CDS। जिसे पास करने के बाद कैंडिडेट को आर्मी, नेवी और एयरफोर्स जैसी सेनाओं में से किसी एक का हिस्सा बनने का सुनहरा मौका मिलता है। तो ऐसे में आपको CDS Exam से जुड़ी जानकारी जरूर लेनी चाहिए ताकि आप भी इस परीक्षा के लिए तैयार हो सकें इसलिए आज के इस लेख में CDS Exam क्या है? और इससे जुड़ी पूरी जानकारी के बारे में हम आपको बतायेंगे। इसीलिए इस लेख को अंत तक जरूर पढ़ें।

CDS Exam क्या है?

इस Exam CDS का फुल फॉर्म Combined Defence Services होता है। इसे हिंदी में “सम्मिलित रक्षा सेवा” कहतें हैं। इस exam को पास कर लेने के बाद कैंडिडेट को इंडियन मिलेट्री, एयरफोर्स, और नेवी में जॉब मिल जाती है। CDS exam को पास करके आप इन सर्विसेस में ऑफिसर का पद पा सकतें हैं। यह परीक्षा Union Public Service Commission (UPSC) द्वारा आयोजित करवाया जाता है। और साल में दो बार होता है। हर साल इस परीक्षा में 4 लाख से भी ज्यादा कैंडिडेट हिस्सा लेते हैं। जिनमें से बहुत ही कम कैंडिडेट चुने जातें हैं। इस परीक्षा में written test और interview के आधार पर selection किया जाता है।

यह भी पढ़ें:- Exam Paper में तेज लिखने का सबसे बेहतर तरीका

CDS Exam के Eligibility Criteria क्या है?

Nationality

CDS exam के लिए अप्लाई करने वाले कैंडिडेट्स भारत,  नेपाल या भूटान के नागरिक होने चाहिए।

Age Limit

CDS Exam के लिए अप्लाई करने से पहले आपको आयु सीमा (Age Limit) की कंडीशन पर भी गौर करना होगा। जो इस तरह से है। इंडियन मिलिट्रीएकेडेमी के लिए – 19 से 24 साल तक, इंडियन एयरफोर्स एकेडमी के लिए – 19 से 24 साल तक, इंडियन नेवल एकेडमी के लिए – 19 से 24 साल तक और ऑफिसर्स ट्रेनिंग एकेडमी के लिए – 19 से 25 साल कि उम्र सीमा होनी चाहिए।

Educational Qualification

CDS Exam के लिएअप्लाई करने वाले कैंडिडेट की एजुकेशनल क्वालिफिकेशन इस तरह होनी चाहिए। इंडियन मिलिट्री एकेडेमी के लिए – कैंडिडेट का किसी रिग्नाइज्ड यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएट होना जरूरी है, इंडियन नेवल एकेडमी के लिए – कैंडिडेट के पास इंजीनियरिंग में बैचलर डिग्री होना जरूरी है, एयरफोर्स एकेडमी के लिए – कैंडिडेट के पास ग्रेजुएशन की डिग्री होनी जरूरी है, साथ ही 12th क्लास में मैथ्स और फिजिक्स सब्जेक्ट्स होना भी जरूरी है। और ऑफिसर्स ट्रेनिंग एकेडमी के लिए कैंडिडेट का किसी रिग्नाइज्ड यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएट होना जरूरी है।

Marital Status

इंडियन मिलिट्री एकेडेमी के लिए – अनमैरिड, इंडियन मिलिट्री एकेडेमी के लिए – अनमैरिड, एयरफोर्स एकेडमी के लिए – मैरिड अथवा अनमैरिड, ऑफिसर्स ट्रेनिंग एकेडमी के लिए – पुरूषों के लिए – मैरिड अथवा अनमैरिड और महिलाओं के लिए अनमैरिड अथवा इश्युलेस ड़ीवोर्सी या फिर इश्युलेस वीडो भी हो सकतीं हैं।

CDS परीक्षा को पास करने के लिए आपको निम्न स्टेज को क्लियर करना होगा

सबसे पहले आपको रिटेन टेस्ट को क्वालीफाई करना होगा। फिर इंटरव्यू में अपीयर होना होगा इन दोनों स्टेप्स को क्लियर करने के बाद आप इन जगहों में से एक के लिए सेलेक्ट होंगे।

  1. Indian Milletry Academy, Deharadun
  2. Naval Academy, Goa
  3. Air Force Academy, Begumpet
  4. Officers Training Academy, Chennai

Physical Eligibility

CDS परीक्षा को पास करने के लिए कैंडिडेट का फिजिकली और मेंटली फिट होना बहुत जरूरी है। इसमें Eyes, Height, और Weight रिलेटेड कंडीशंस फुलफिल होनी चाहिए। कैंडिडेट को फिजिकल एलिजिबिलिटी से जुड़ी बहुत सारी कंडीशन होती है। जिन्हें क्लियर करने वाले कैंडिडेट को ही सेलेक्ट किया जाता है। इसलिए CDS Exam के लिए अप्लाई करने से पहले इससे जुड़ी हर कंडीशन और क्राइटेरिया को अच्छे से समझ लें। ताकि आपको किसी भी तरह की समस्या न झेलनी पड़े।

CDS Exam के लिए तैयारी कैसे करें?

  1. क्विक प्रॉब्लम सॉल्व करने की प्रैक्टिस करें। क्योंकि हर उत्तर के लिए आपको लगभग 1 मिनट का समय मिलता है। इसलिए मैथमेटीक्स से जुड़े प्रश्नों को सॉल्व करने के लिए शॉर्टकट ट्रिक्स को याद रखें।
  2. तेज होने के साथ-साथ आपका एक्यूरेट होना भी जरूरी है। इसलिए तेज स्पीड के साथ एक्यूरेसी का भी ध्यान रखें।
  3. माक टेस्ट से प्रैक्टिस को बेटर बनाये। ताकि आप पूरी तरह से एग्जाम जैसा माहौल और चैलेंज पा सकें और बेस्ट परफॉरमेंस के लिए तैयार हो सकें।
  4. पिछले साल के प्रश्न पत्र को जरूर हल करें।
  5. जनरल नॉलेज वाले पेपर को क्रैक करने के लिए केवल मार्केट में मिलने वाली गाइड पर ही निर्भर ना रहें बल्कि NCERT बुक्स की मदद जरूर लें।
  6. देश दुनिया की लेटेस्ट न्यूज़ से अपडेट रहें।
  7. हर सब्जेक्ट्स का एक टॉपिक क्लियर होते ही रिविजन जरूर करें।
  8. आशावादी बनें रहें। और डेडिकेशन के साथ हार्ड वर्क और स्मार्ट परफॉरमेंस देते रहें।

यह भी पढ़ें:- IIT JAM परीक्षा क्या है? और इससे जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी

Final Words

दोस्तों CDS Exam से महत्वपूर्ण जानकारियाँ हमने आपको इस लेख में बताया है। लेकिन CDS exam में अपीयर होने के लिए एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया बहुत सी कंडीशन शामिल हैं। जिन्हें अच्छे से समझ लेने के बाद ही इस परीक्षा की तैयारी में जुटें। हमें उम्मीद है कि यह जानकारी आपको पसंद आयी होगी। और आपके लिए फायदेमंद भी साबित होगी। साथ ही यदि आपका कोई दोस्त है जो फील्ड में आना चाहता है, लेकिन उसके पास इसकी उचित जानकरी नहीं है तो इस लेख को उन सभी के साथ share करें, जिन्हें इसकी जरूरत है।

Rohit Yadav

Hi Friends! I am Rohit Yadav, a Web developer, programmer and blogger. I love to write a blog and share our thoughts and knowledge with other peoples. I think the articles written by me will be very helpful for you.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *