` Insurance क्या है? (What is insurance full information in hindi) - Gyan Info

Insurance क्या है? (What is insurance full information in hindi)

इंश्‍योरेंस का मतलब आने वाले खतरे से सुरक्षा करना होता है। अपने Life और Property से जुड़े risk को कवर करने का एक विकल्प इंश्‍योरेंस होता है। लेकिन Insurance क्यों करवाना चाहिए? Insurance कैसे काम करता है? और Insurance कितने प्रकार का होता है और Insurance क्या है? ये सब भी तो जानना जरूरी है ताकि आप अपनी जरूरत के अनुसार सही Insurance को चुन सकें। इसलिए आज लेख हम आपको Insurance से जुड़ी सभी जरूरी जानकारी के बारे में बतायेंगे। इसलिए इस लेख को अंत तक जरूर पढ़ें।

What is meaning of insurance in hindi

इंश्‍योरेंस एक लीगल एग्रीमेंट है जो कि दो पार्टी के बीच होता है। इंश्‍योरेंस कम्पनी और Insurance करवाने वाला व्यक्ति, इस एग्रीमेंट के अनुसार जब कोई व्यक्ति अपना Insurance, Insurance Company से Insurance (बीमा) करवाता है, तो भविष्य में उसके होने वाले नुकसान की भरपाई Insurance Company करती है। Insurance को हिंदी में बीमा भी कहा जाता है।

Insurance क्या है? (What is insurance in hindi)

इंश्योरेंस” को हिंदी में “बीमा” कहा जाता है। बीमा वास्तव में बीमा कंपनी और बीमित व्यक्ति के बीच एक कॉन्ट्रेक्ट होता है। इस कॉन्ट्रेक्ट के तहत बीमा कंपनी बीमित व्यक्ति से एक निश्चित धनराशि (premium) लेती है, और बीमित व्यक्ति या कंपनी को पॉलिसी की टर्म के हिसाब से किसी नुकसान की स्थिति में भरपायी करती है।

Insurance कैसे काम करता है? (How does insurance works)

इंश्योरेंस एग्रीमेंट के तहत बीमा कम्पनी के द्वारा बीमित व्यक्ति (Insured Person) से एक फिक्स रकम (Ammount) लिया जाता है। जिसे प्रीमियम कहतें हैं। प्रीमियम लेने के बाद यदि उस बीमित व्यक्ति को किसी भी तरह का नुकसान पहुँचता है, तो इंश्योरेंस पालिसी की Term and Condition के अनुसार उसके नुकसान की भरपायी की जाती है। इसी तरह यदि किसी प्रॉपर्टी जैसे- घर या कार का बीमा करवाया गया हो तो उस चीज के टूटने जैसी स्थितियों में उस प्रॉपर्टी के मालिक को पहले से decide की गयी शर्तों के अनुसार मुआवजा दिया जाता है।

इसे भी पढ़ें:- Generic Medicine क्या होती है पूरी जानकारी

Insurance कितने प्रकार का होता है? (Types of insurance)

वैसे तो आजकल बीमा के बहुत से प्रकार (types) प्रसिद्ध हो गये हैं। लेकिन Insurance मुख्य रूप से दो प्रकार का होता है।

  1. जीवन बीमा (Life Insurance)
  2. सधारण बीमा (General Insurance)

1. जीवन बीमा क्या है? (What is Life Insurance)

इसके नाम से ही पता चलता है कि Insurance का यह प्रकार insured person की Life का इंश्‍योरेंस करता है। यानि जो व्यक्ति अपना बीमा करवाता है उसकी अचानक मृत्यु हो जाये तो उसके परिवार कम्पनी मुआवजा देती है। इस जीवन बीमा (Life Insurance) का महत्व तब बढ़ जाता है, जब घर के मुखिया की मृत्यु हो जाये। और परिवार की फाइनेंसिअल Security का खयाल रखने वाला वही हो, तो ऐसे में उस व्यक्ति के ना रहने पर उसके परिवार को फाइनेंसिअल सपोर्ट मिलता है। इसलिए Life Insurence जरूर करवाना चाहिए। ताकि आपके न होने पर भी आपका परिवार फाइनेंसिअल रूप से सुरक्षित महसूस कर सके।

2. सधारण बीमा क्या है? (What is General Insurance)

इस प्रकार के Insurance में Home, Vehicle, Health और Animals Insurance आदि। ये सभी शामिल होतें हैं।

गृह बीमा क्या है? (What is Home Insurance)

यदि हम Home Insurance की बात करें तो बहुत से लोग अपने घर का बिमा भी करवातें हैं। ऐसा करने से उनका घर सुरक्षित हो जाता है। मतलब यदि भविष्य में उनके घर को किसी तरह का नुकसान पहुंचता है, तो उसकी भरपायी बीमा कम्पनी से हो जाती है। इस तरह के इंश्योरेंस में आग, बाढ़ और भूकम्प जैसी बहुत से प्राकृतिक आपदाओं से घर को होने वाले नुकसान शामिल होतें हैं। इसके अलावां हड़ताल, दंगा, चोरी और आतंकवाद जैसी आपदाओं के लिए इंश्योरेंस Security दी जाती है।

स्वास्थ्य बीमा क्या है? (What is Health Insurance)

यदि हम हेल्थ इंश्‍योरेंस की बात करें तो आजकल लोगों में स्वास्थ्य से सम्न्धित समस्यायें ज्यादा बढ़ गयी हैं या फिर ये कहें की लोग काफी ज्यादा आलसी हो गये। इसीलिए स्वास्थ्य पर होने वाला खर्च भी ज्यादा बढ़ गया है। ऐसे में यदि आप एक स्वास्थ्य बीमा करवातें हैं तो आपको कोई बीमारी होने पर इलाज का खर्च हेल्थ इंश्‍योरेंस कम्पनी के द्वारा कवर किया जाता है।

इसे भी पढ़ें: SIP क्या है SIP का फुल फॉर्म क्या होता है

इंश्योरेंस कम्पनी के द्वारा इलाज के दौरान कितना कवर दिया जायेगा। यह आपके द्वारा ली गयी पालिसी कि Term and Conditions पर निर्भर करेगा। यहाँ पर यह ध्यान रखना जरूरी होता है कि हेल्थ इंश्‍योरेंस Policy का फायदा सिर्फ उन्ही अस्पतालों में मिलता है। जो कि इस पालिसी से जुड़े होते हैं। इसके अलावां कुछ ऐसे भी हेल्थ इंश्‍योरेंस पालिसी भी हैं। जो आपके पूरे परिवार को Insurance Security दे सकतीं हैं। इसलिए ऐसी पालिसी को ध्यान में रखते हुए स्वास्थ्य बीमा करवायें।

वाहन बीमा क्या है? (What is Vehicle Insurance)

हमारे देश भारत में वाहनों का इंश्योरेंस करवाना बहुत जरूरी है ऐसा न करने पर फाइन लगता है। इस बीमा पालिसी के तहत आप किसी वाहन (Vahicle) यानी कि चाहे वह कार, टू व्हीलर या फिर थ्री व्हीलर कोई भी वाहन हो उसको नुकसान होने का मुआवजा बीमा कम्पनी देतीहै। यदि आपके गाड़ी से किसी व्यक्ति को चोट लग गयी हो या किसी व्यक्ति की अनजाने में मृत्यु हो गयी हो तो इंश्योरेंस कम्पनी के द्वारा ऐसे मामलों को Third Party Insurance के रूप में कवर किया जाता है।

फसल बीमा क्या है? (What is Crop Insurance)

ऐसे किसान जो खेती करने के लिए कर्ज (Loan) लेतें हैं। उनके लिए फसल बीमा लेना बहुत जरूरी होता है। इस इंश्‍योरेंस में फसल को किसी भी कारण से होने वाले नुकसान की भरपायी इंश्योरेंस कम्पनी के द्वारा की जाती है।

व्यापार देयता बीमा क्या है? (What is Business Liability Insurance)

यह इंश्योरेंस किसी Company के Work या उसके किसी प्रोडक्ट से Consumer को होने वाले नुकसान की भरपाई करता है। कहने का अर्थ है कि किसी कम्पनी के काम-काज या उसके किसी प्रोडक्ट की वजह से यदि किसी कस्टमर को कोई हानि होती है तो ऐसी स्थिति में कम्पनी पर लगने वाला जुर्माना और कानूनी कार्यवाही का सारा खर्च उठाने की जिम्मेदारी उस इंश्योरेंस कम्पनी की होती है। जो कि उस कम्पनी का Business Liability Insurance करती है।

यात्रा बीमा क्या है? (What is Travel Insurance)

आजकल ट्रैवल इंश्योरेंस भी काफी ज्यादा चलन में है। यह बीमा Traveling के दौरान होने वाले नुकसान से बचाव करती करती है। यदि कोई व्यक्ति जिसने अपना ट्रैवल इंश्योरेंस करवा रखा है। वह काम के सिलसिले में या घूमने के उद्देश्य से विदेश जाता है। और वहां उसे चोट लग जाती है। या उसके सामान खोने जैसी घटनायें हो जाती हैं। तो इसका मुआवजा बीमा Company उस व्यक्ति को देती है। इस पालिसी कि समय सीमा आपकी यात्रा शुरू होने से लेकर खत्म होने तक की होती है। इसके अलावां देश के अन्दर की जाने वाली छोटी बड़ी यात्राओं के लिए भी ट्रैवल इंश्योरेंस उपलब्ध होता है।

इसे भी पढ़ें: NGO (एनजीओ) क्या है? NGO कैसे शुरू करें पूरी जानकारी

आजकल तो यदि आप अपने स्मार्टफोन में Apps का उपयोग करतें हैं, तो खासकर कैब बुक करने के लिए तो वहां भी आपको इंश्‍योरेंस का विकल्प एक या दो रुपये में मिल जाता है। इसी के साथ यदि आप Aeroplane, Train आदि  से यात्रा करतें हैं, तो भी आपको इंश्‍योरेंस का विकल्प मिल जाता है। लेकिन वहां आपकी इच्छा है कि आप उसे लेना चाहतें हैं कि नहीं।

Conclusion

अब आपको पता चल गया है कि Insurance क्या है? इसके लाभ क्या हैं यह लॉन्ग टर्म में आपको कैसे फायदा पहुँचा सकता है? खासकर उस भविष्य में जिसका शायद आपको पता भी नहीं है। भगवान न करें कि ऐसा किसी के साथ हो। लेकिन फिर भी यदि आप फैमिली को लेकर बहुत कन्सर्न हैं, आपके घर को लेकर आपके दिमाग में बहुत ज्यादा तनाव रहता है, तो आपके लिए बेहतर विकल्प है कि आप इंश्‍योरेंस करवा लें ताकि आपका यह तनाव खत्म हो जाये।

क्योंकि कुछ चीजें ऐसी होतीं हैं जो हमारे हाथ में नहीं होतीं हैं और यदि आपको लगता है कि अक्सर लोग आपको यह बोलते रहतें हैं तो आपके पास जवाब है कि आपको इंश्‍योरेंस लेना है कि नहीं। इस लेख ने आपको काफी सारी जानकारियाँ दी है। यह लेख आपको कैसा लगा? हमें कमेन्ट्स बॉक्स में लिखकर जरूर बतायें। साथ ही साथ इस लेख को अपने दोस्तों के साथ अपने फैमिली मेम्बर के साथ जरूर share कीजिये। यदि आप चाहतें हैं कि सबको बीमा लेना चाहिए लेकिन वो कन्वेंस नहीं हो रहें हैं। तो आप उन्हें यह लेख जरूर share कर सकतें हैं।

Rohit Yadav

Hi Friends! I am Rohit Yadav, a Web developer, programmer and blogger. I love to write a blog and share our thoughts and knowledge with other peoples. I think the articles written by me will be very helpful for you.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *