Research Paper कैसे Publish करें? पूरी जानकारी

दोस्तों यदि आप भी एक रिसर्च स्कॉलर हैं। और अपना Research Paper करवाना चाहते हैं। लेकिन आपको पता नहीं कि Research Paper को कैसे Publish करवाया जाता है। तो इस लेख को पढ़ने के बाद आपको पता चल जायेगा कि Research Paper कैसे Publish करें (How to Publish Research Paper)।

Research Paper कैसे Publish करें

रिसर्च स्कॉलर के लिए Research Paper पब्लिश करवाना जरूरी होता है। और ऐसे स्टूडेंट्स जो technical courses में आगे अध्ययन के लिए अप्लाई करना चाहतें हैं। ऐसे स्टूडेंट्स के लिए Research Paper पब्लिश करवाना उनके एडमिशन प्रोसेस में मदद करता है। ऐसे में यदि आप एक रिसर्च स्कॉलर हैं। तो आपको अपने सुपरवाईजर से महत्वपूर्ण टिप्स मिल जाती होगी। लेकिन यदि आप एक स्टूडेंट्स हैं, तो आज का यह लेख आपको रिसर्च पेपर पब्लिश करवाने के task में Guide का काम करेगा। इसलिए इस लेख को अंत तक जरूर पढ़ें।

Research Paper कैसे Publish करें (How to Publish Research Paper)

1. अपना Area of Interest पहचानें

सबसे पहले आपको अपना अपना Area of Interest पहचानना होगा। और इस दौरान आपको यह पता होना चाहिए कि आप उस टॉपिक के बेसिक्स के बारे में आप काफी स्टडी कर चुके हैं। यानि आपको उस विषय कि पर्याप्त नॉलेज है। इसके बाद आपको अपने चुने हुए फील्ड में अपने आपको अपडेट करना होगा। इसके लिए आप रीडिंग और इंटरनेट पर सर्च भी कर सकतें हैं। और कांफ्रेंस में होने वाली उस टॉपिक के विषय जानकारी ले सकतें हैं।

2. Publish हो चुके Research Paper को पढ़िए

पहला स्टेप पूरी तरह से कम्पलीट कर लेने के बाद आप दूसरे स्टेप्स पर आयेगें। जहाँ पर आपको पहले से Publish हो चुके Research Paper को पढ़ना होगा। इस दौरान सभी महत्वपूर्ण टिप्स और रेलेवेंट जानकारियाँ लेने कि कोशिश करें। क्योंकि Published Paper को पढ़कर आप खुद के पेपर के लिए एक मजबूत Base तैयार कर पायेंगे। इस प्रोसेस में आप अपने फेलो रिसर्चर की मदद से यह भी पता लगा सकतें हैं कि आपके फील्ड के most general कौन-कौन से हैं। ताकि आप सही दिशा में तेजी से start कर पायें।

3. Terms को समझिये

जब हमें सही स्रोत और अच्छी जानकारी मिलने लग जाती है। तब भी आसान नहीं होता है कि दूसरो के पब्लिश किये गये Research Paper को आसानी से समझा जा सके। इसके लिए आपको बार-बार इन्हें पढ़ना होगा। ताकि आपको ज्यादा से ज्यादा जानकारी मिल सके। और इसमें आपको अपना इन्ट्रेस्ट बनाकर रखना होगा। तभी आप Research Paper Read करते समय आने वाली कठिन समस्याओं को समझने की कोशिश करना चाहेंगे। जो आपके लिए जरूरी है।

यह भी पढ़ें: 12 Tips To Became A Successful CEO Full Information In Hindi

4. महत्वपूर्ण बिंदु को लिखना शुरू करें

यदि आप केवल Research Paper को पढ़ते रहेंगे, तो सब कुछ याद रख पाना संभव नहीं हो पायेगा। इसलिए आपने क्या-क्या पढ़ा है। उसे एक पेपर पर नोट करते जाइये जिनमें इंट्रेस्टिंग प्रॉब्लम, पॉसिबल सलूशन, रेंडम आईडिया और रेफरेन्सेस शामिल हों, तो ये आपके लिए काफी ज्यादा मददगार रहेंगे।

5. अपने Research Paper में इन्हें शामिल कीजिये

Published Research Paper की स्टडी करके और उनके नोट्स बनाकर आप ये तो जान ही जायेंगे। कि आपको रिसर्च पेपर लिखते समय किन-किन बातों का ध्यान रखना है और किस तरीके से उसे प्रेजेंट करना है इसके बाद Research Paper लिखना शुरू करने से पहले आपको यह भी जान लेना चाहिए कि आपके पेपर में Significance, Originality और Completeness होना चाहिए और उसमें Mistakes के लिए कोई जगह नहीं होनी चाहिए in बातों को ध्यान में ही रखकर एक Research Paper को लिखें।

6. Research Paper में निम्नलिखित बिंदु को शामिल करें

  • Paper Title
  • Author Information
  • Abstract
  • Keywords
  • Introduction
  • Literature Review
  • Proposed Work
  • Output
  • Conclusion
  • Future Work
  • Referances

7. Section by Section चलिये

एक साथ पूरा पेपर जल्दी से जल्दी लिखने की स्ट्रेटजी यहाँ पर काम नहीं करेगी। बल्कि आपको Section by Section लिखने का लक्ष्य बनाना होगा। और उसी पर आपको अपना पूरा फोकस रखना होगा। इस तरह सभी सेक्शन को पूरी तरह कम्पलीट करते जाने से आप बहुत जल्दी ही अपना रिसर्च पेपर परफेक्शन के साथ पूरा कर लेंगे।

8. Pre Review जरूर लीजिये

रिसर्च पेपर तैयार होने के बाद आप अपने पेपर का अपने प्रोफेसर और साथियों से रिव्यु मांग सकतें हैं। ताकि पेपर पब्लिश करवाने से पहले आपको उसका सही Review और Feedback मिल सके। जो उसे बेहतर बनाने में आपकी मदद करे उन Review को carefully पढ़ते रहिये। और और सभी criticism को पॉजिटिव सुझाव की तरह लीजिये। ताकि आप पहले से बेहतर परफॉर्म कर सकें।

9. Research Paper Present और Publish कराने के लिए तैयार रहिये

रिसर्च पेपर को रिव्यु के अनुसार तैयार कर लेने के बाद अब बारी आती है। उसे Present और Publish कराने की। इसके लिए आपके पास National Confrence, International Confrence और Generals जैसे विकल्प मौजूद होंगे। यदि आप शुरूआती में अपने रिसर्च पेपर को पब्लिश करवाना चाहतें हैं। तो आपके लिए National Confrence Right Place साबित होती है। और यह बहुत सी यूनिवर्सिटीज़ में होती है।

यह भी पढ़ें: English Writing Skill को कैसे Improve करें? पूरी जानकारी

इसलिए आप यहाँ पर approach कर सकेंगे। और जब आप कॉन्फीडेंट महसूस कर लगेंगे तो आप International Confrence का हिस्सा बन सकतें हैं। जो मध्यमवर्गीय स्कॉलर के परफेक्ट प्लेस होती है। Confrence में रिसर्च पेपर प्रेजेंट करने से आपको अपने काम के लिए feedback भी मिलता है। और Confrences, Paper पब्लिश करने के लिए Rapid Time  भी ऑफर करती है।

जहाँ तक General की बात है तो यह Confrences की तुलना में ज्यादा महत्वपूर्ण माने जातें हैं। और Confrences के रास्ते से होते हुए आप यहाँ तक भी आसानी से पहुँच सकतें हैं। जहाँ आकर आपका Research Paper Publish हो जायेगा।

Conclusion

इस पूरे प्रोसेस में आपको धैर्य बनाये रखना होगा। क्योंकि रिसर्च पेपर लिखने और पब्लिश कराने के इस प्रोसेस में कड़ी मेहनत, Efforts, Mistakes, Rejection और feedback सब कुछ शामिल होता है। इसलिए अपना काम पूर्णता के साथ करते जाइये और धैर्य बनाकर रखिये।

तो दोस्तों इस लेख Research Paper कैसे Publish करें (How to Publish Research Paper) की जिन लोगों को जरूरत है जिन लोगों को जरूरत है। और जो लोग इस फील्ड में काम कर रहें उनके साथ जरूर share कीजिये। साथ ही यह जानकारी आपको कैसी लगी हमें कमेंट्स बॉक्स में लिखकर जरूर बतायें।

Leave a Comment

x